RAJ KAMAL - कांतिलाल गोडबोले फ्राम किशनगंज

सोचो ज़रा हट के

203 Posts

6518 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 1662 postid : 1570

“महेश भट्ट साइनिंग सन्नी लियोन इन बिग बॉस फॉर ZISM - 2” !!!

Posted On: 31 May, 2012 में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

 “महेश भट्ट साइनिंग सन्नी लियोन इन बिग बॉस फॉर ZISM  - 2” !!!

हमारी फिल्म इंडस्ट्री यानी की बालीवुड के मशहूर निर्माता निर्देशक महेश भट्ट  बिग बॉस सीजन फाइव की सनसनीखेज़ प्रतिभागी  सन्नी लियोन से मिलने पहुंचे …… इस दौरान उन दोनों के बीच में  जो भी बातचीत हुई उसका लाइव टेलीकास्ट आप सभी की सेवा में प्रस्तुत  करने जा रहा हूँ , जोकि इस प्रकार है :-

महेश भट्ट :- माइसेल्फ महेश भट्ट -हाय सन्नी कैसी हो ?….. हाऊ आर यू” ?….

सन्नी लियोन :- ओह ! व्हाट ऐ सरप्राइज़ टू सी यू हियर सर ! ….इस पिंजरे में मेरी जैसी आजाद पंछी रूपी उड़ती  चिड़िया का क्या हाल इन दिनों हो गया है यह आप देख लीजिए और कुछ देर के बाद महसूस भी कीजिये ….. एक  कमबख्त इश्क और दूसरा पैसा जो ना करा दे वोही कम है आजकल के जमाने में …..

महेश भट्ट : बेबी ! मैं तुम्हारा उड़ती चिड़िया और आजाद पंछी वाला हाल देख कर ही तो यहाँ पर अपनी फिल्म जिस्म के रीमेक ZISM  – 2 के लिए तुमको साइन करने के लिए यहाँ पर इस प्रोग्राम में चला आया हूँ”

सन्नी लियोन :- थैंक यू वैरी मच सर …. आप तो मेरे पिता जी के समान है इसलिए आपके साथ काम करके मुझको भी हार्दिक खुशी होगी” ……

महेश भट्ट :- हाय ! हाय ! बेबी !!  अभी तुम वाकई में ही नासमझ हो शायद इसीलिए यहाँ के दस्तूर से नावाकिफ होने के कारण ऐसी वाहियात बात कह रही हो …..

यहाँ पर तो फादर नहीं सिर्फ और सिर्फ ‘गाडफादर’ होते है जैसे की उर्मिला के रामू + नौकरानी के शाइनी आहूजा ….. इसीलिए यूनिट और बालीवुड समाज के सामने मेरी खुद की सगी बेटी पूजा भी मुझको डैड की बजाय सर और आप कहती है …..

सन्नी लियोन :- ओह ! आई एम वैरी -२ सारी सर …. मुझको महेश जी माफ करना गलती म्हारे से हो गई आइन्दा से फिर कभी ऐसा नहीं होगा …. प्लीज मुझको माफ कर दीजिए ना …. मैं आपकी फिल्म में काम करना चाहूंगी ऐसा करके असल में ही मुझको खुशी और गर्व होगा ….

बिग बॉस राजकमल :- (बीच में टपकते हुए ) सन्नी बेबी यह तुमने बड़ा ही समझदारी भरा फैसला लिया है ….. क्योंकि महेश सर कलाकार के भीतर के छिपे  हुए टैलेन्ट को सभी के सामने बाहर निकाल कर कुछ इस तरह से रख देते है की दूसरों के साथ -२ खुद वोह कलाकार  भी हैरान रह जाता है ….

सन्नी लियोन :- थोड़ा -२ डरते- सहमते और “संकुचाते तथा शर्माते” हुए बोली लेकिन सर मैं तो अपना   सारे का सारा छिपा  हुआ टैलेन्ट पहले ही पूरी दुनिया को दिखा चुकी हूँ …..

बिग बॉस राजकमल :- (फिर से बीच में अपनी टांग अड़ाते हुए )

बेबी हम बिना कपड़ो वाले  विदेशी टैलेंट की  नहीं बल्कि कपड़ो वाले देशी टैलेन्ट की बात कर रहे है ….

 

सन्नी लियोन :-सर ! जैसा की नाम से ही जाहिर हो रहा है मुझको आपकी फिल्म ZISM  – 2 में कितना अंग प्रदर्शन करना (बदन दिखाना ) पड़ेगा …..

महेश भट्ट :- बेबी ! आपको लेकर हमारे सामने दूसरी हिरोइनों जैसी समस्या बिलकुल ही नहीं है …. बल्कि हमे तो आपको ‘दिखाने’ की बजाय ‘छुपाने’ के बारे में सोचना है ….. मैंने अपनी बेटी के अंडर  एक टीम बनाई है जोकि इस बात का फैसला लेगी की आपके जिस्म का कौन सा भाग कितना छुपाया जाए …..

सन्नी लियोन :- सर ! मुझे अब आपकी काबलियत का कुछ -२ अंदाज़ा तो हो ही गया है …. लेकिन मैं आप पर ब्रेक थ्रू के लिए कैसे भरौसा कर सकती हूँ ?…..

बिग बॉस राजकमल :- फिर से बीच में टपकते हुए बोले  “सन्नी यह ऐसे निर्देशक है जोकि गुणवत्ता के मामले में किसी भी रिश्ते का लिहाज नहीं करते है …. इन्होने तो “सड़क” फिल्म में अपनी बेटी पूजा के लिए सदा शिव अमरापुरकर के मुंह से यह डायलाग तक बुलवा डाला  था “तुझे तो मैं टाप की रंडी बनाऊंगा”…..

 

सन्नी लियोन :- अब तो मुझको पूरा भरौसा हो चला है की भारत के फिल्म जगत में आपकी फिल्म के द्वारा एंट्री का फैसला करके मैंने कोई गलती नहीं की है ….. सर अब क्यों न मेहनताने की बात भी फाइनल कर ली जाए …..

महेश भट्ट :- सन्नी बेबी देखो इस इंडस्ट्री में हमारा बहुत बड़ा नाम है ….. हमारी फिल्म के बनने के बाद उसकी सफलता की पूरी-2 गारन्टी हुआ करती है …..

सन्नी लियोन :- सर आप भी इतनी बात को जान लीजिए की अब तक जितनी भी फिल्मे मैंने की है उन सभी की सफलता उनके बनने से पहले  ही तय हो जाती है ….

महेश भट्ट :- बेबी इस बात को हमेशा याद रखना की हम बहुत बड़े डायरेक्टर है और हमारा बैनर भी बहुत बड़ा और नाम वाला है ….. इसलिए हम तुम्हे किसी नई हीरोइन के बराबर की ही रकम में साइन करेंगे …..

सन्नी लियोन :- सर जब मैं अपने जिस्म का आपकी फिल्म ZISM  – 2 में किसी भी हद तक खुले दिल से खुल कर प्रदर्शन करने के लिए तैयार हूँ तो फिर आप मुझको मेरा मन माफिक मेहनताना देने में  कंजूसी क्यों कर रहे है …..

महेश भट्ट :- बेबी अभी तो तुम नखरे दिखला रही हो लेकिन बाद में तुम खुद ही मांग कर मुझसे इस रोल को करने की हामी भरोगी….

सन्नी लियोन :- सर मुझे अपना खुद का थूका हुआ  चाटने की आदत बिलकुल भी नहीं है ….

महेश भट्ट :- बेबी मैं तुम जैसी हिरोइनों की  चाल और चरित्र तथा फितरत को अच्छी तरह से जानता और समझता हूँ ….. यह माना  की तुम खुद का थूका हुआ नहीं चाटती हो लेकिन किसी दूसरे का थूका हुआ रोल तो आसानी से हजम कर जाती हो …..

इतना कहते ही महेश भट्ट ने  उसी रोल  के लिए ‘मल्लिका शेरावत’ का नम्बर मिलाया ….

तभी बिग बॉस राजकमल ने बनती हुई बात को बिगड़ते हुए देख कर महेश भट्ट को रोकते हुए सन्नी से दोबारा बात करने के लिए कहा ……

इस असहज सिथति से छुटकारा पाने के लिए सन्नी ने बिग बॉस से दो मिनट का ब्रेक एक नम्बर जाने के लिए के लिए माँगा ….. (उसके चले जाने के बाद )

 

बिग बॉस राजकमल :- सर आपने सन्नी लियोन को अपनी फिल्म में  लेने का फैसला क्या उसकी पिछली पृष्ठभूमि को देखते हुए लिया है ?…..

महेश भट्ट :- नहीं नहीं , बिग बॉस बात दरअसल यह है की मुझे इसकी शक्लो सूरत+ डीलडौल तथा चालढाल में अपनी  पूर्व की प्रेमिका स्वर्गीय परवीन बाबी की झलक दिखलाई पड़ती  है …..

बिग बॉस राजकमल :- सर ! सच -२ बतलाईयेगा अभी अभी आपने क्या वाकई में ही मल्लिका शेरावत को फोन लगाया था ?…..

महेश भट्ट :- आपका शक बिलकुल सही है बिगबास ….. वोह फोन मैंने दरअसल अपनी बेटी पूजा को लगाया था ….. अपने इसी ट्रिक से मैंने बहुत सी हिरोइनों को पटाया + छकाया है ….. तभी सन्नी को दूर से ही आते हुए देख कर दोनों ही चुप हो जाते है ….

बिग बॉस राजकमल :- तनाव भरे माहौल को सामान्य बनाने की कोशिश के तहत सन्नी लियोन से उमर उपाधयाय द्वारा उसके हाथ को चूम लेने पर आक्रोशित होने का कारण पूछते है ……

सन्नी लियोन :- सर आप तो हम औरतो के त्रिया चरित्र वाले गुण को जानते ही है …… जिसके बलबूते कबीर जी की पत्नी ने उनको पागल तक साबित कर दिया था …..

सर अनेको बार ही नहीं बल्कि अक्सर ही हम पश्चिम की औरतो की ना का मतलब हाँ में ही होता है जिसको की कोई समझदार और खुशकिस्मत पुरुष ही समझ सकता है …… जो आदमी मेरे बारे में सभी कुछ जानता हो और उसके बावजूद  भी सिर्फ हाथ को ही किस करे तो आप ही बतलाइये  की ऐसे मूर्ख और नासमझ पर भला किसको गुस्सा नहीं आएगा …..

बिग बॉस राजकमल :- सन्नी बेबी अब गुस्सा थूक भी दो ….. मैं महेश सर से सिफारिश करना चाहूँगा की वोह फिल्म इन्डस्ट्री के “सीरियल किसर”इमरान हाशमी’ के साथ तुमको लेकर कोई नई फिल्म शुरू करे …..

सन्नी लियोन :- बिग बॉस आपका बहुत -२ धन्यवाद ! महेश सर अगर मुझे दोगुणा मेहनताना नहीं दे सकते तो मैं भी इनकी काबिलियत को देखते हुए अपनी शर्तों से नीचे  उतरते हुए डेढ़ गुणा रकम पर काम करने की हामी भर सकती हूँ …..

महेश भट्ट :- बेबी देखना मेरी इस फिल्म में काम करके तुम्हारा कितना नाम होगा और चारों दिशाओं में तुम्हारी इज्जत के डंके बजने लगेंगे ….. वैसे भी हमारे भारत में यह कहावत मशहूर है की “एक वैश्या की भी इज्जत होती है”…..

सन्नी लियो :- सर ! भारत में तो यह सिर्फ कहावत तक ही सीमित  है ….. लेकिन मुझे तो अपनी ‘उस तरह की फिल्मों’ के बावजूद “बैस्ट- एक्ट्रेस” का अवार्ड भी मिल चूका है …..

लेकिन फिल्म में में काम करने के लिए मेरी भी एक शर्त है की मैं जिस्म टू में बिकिनी बिलकुल भी नहीं पहनूंगी ….

महेश भट्ट :- बेबी ! यह तुम क्या ज़ुल्म करने जा रही हो ….. यह युरोप नहीं है बल्कि हमारा भारत है …… यहाँ पर तुम्हे आखिरकार अपने जिस्म पर कोई न कोई कपड़ा तो पहनना ही पड़ेगा ..

सन्नी लियोन :- OMG ! आप सरासर ही गलत समझे है सर ….. मेरा मतलब था की मैं कपड़ो के नीचे बिकिनी नहीं पहनूंगी ……

महेश भट्ट :-  इसे कहते है बालीवुड में हालीवुड का तड़का ….. दैट्स राईट बेबी ! आई लाइक युअर स्पिरिट एंड डैडीकेशन टू वर्क …..

तभी बिग बॉस राजकमल ने भी अपने स्वभाव के अनुसार चुटकी लेते हुए (काटते हुए नहीं ) कहा :-“हमारे यहाँ पर एक कहावत है की ‘जो है नाम वाला वोही तो बदनाम है” सन्नी महेश सर के साथ काम करके तुम बदनाम ऐक्ट्रेस का नाम हो जाएगा और हमारे नाम वाले महेश सर थोड़ा -२ बदनाम भी हो ही जायेंगे”….. इस बात पर तीनों ही जी खोल कर हँसने लगते है …..

और इस तरह थोड़ी सी तकरार के बाद पूरे इकरार के माहौल में यह बैठक सुखद नतीजे का साथ सफलतापूर्वक सम्पन्न हुई ……

                                                                       बिगबास

                                                                    राजकमल शर्मा

महेश भट्ट साइनिंग सन्नी लियोन इन बिग बॉस फॉर ZISM  – 2” !!!

 

(इस रचना में प्रस्तुत चित्र निम्नाकित लेख से लिया गया है आभार सहित )

http://entertainment.jagranjunction.com/2012/01/13/entertainment-sunny-leon-agreed-to-do-jism-2/


Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (4 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

30 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

rdx4u के द्वारा
June 1, 2012

महेश भट्ट साइनिंग सन्नी लियोन इन बिग बॉस फॉर ZISM – २ बॉक्स ऑफिस का रिकार्ड टूटेगा !

akraktale के द्वारा
May 31, 2012

आदरणीय राजकमल जी नमस्कार, चलो आखिर आपकी मेहनत रंग लायी और एक अबला को हिन्दुस्तान की सर जमी पर सर छुपाने और पैर ज़माने का मौका भी मिल ही गया. श्रीमान विमल रतुरी जी के ब्लाग पर जाने से मालुम हुआ की फिल्म का फोटो सेशन भी शुरू हो चुका है. क्या आशा करूँ की जल्द ही पूरी फिल्मे इसी मंच पर देखने को मिलेंगी?

    Rajkamal Sharma के द्वारा
    June 2, 2012

    आदरणीय अशोक जी ….. सादर अभिवादन ! इस फिल्म का आडिशन ही नहीं बल्कि इसकी फिल्म की शूटिंग भी लगभग पूरी हो चुकी है ….. इस मंच पर तो नहीं लेकिन अगस्त से सिनेमाघरों में हमको उस हसीं ज्ल्वानुमा आइटम के दीदार होने वाले है ….. आपका तहेदिल से शुक्रिया

RAJEEV KUMAR JHA के द्वारा
May 31, 2012

बहुत खूब! बिग बॉस राजकमल जी.फिल्म का ट्रेलर इतना हिट है तो पिक्चर का क्या होगा.फिल्मी दुनियां की भेड़चाल पर विशेष प्रस्तुति बहुत पसंद आई.

    Rajkamal Sharma के द्वारा
    June 2, 2012

    आदरणीय राजीव जी ….. सादर अभिवादन ! यह ट्रेलर भी आपकी उकसाहट भरी कोशिशो का ही नतीजा है – हा हा हा हा हा आपको इस खबर को जानकर हार्दिक खुशी होगी की इस फिल्म की शूटिंग लगभग पूरी हो चुकी है और ज़ल्द ही अगस्त माह में यह रिलीज होकर हमारे सामने होगी ….. आपका बहुत-२ शुक्रिया

R K KHURANA के द्वारा
May 31, 2012

प्रिय राज कमल जी, बहुत सुंदर लेख ! सुंदर व्यंग ! फ़िल्मी संसार पर अच्छा व्यंग कसा है आपने ! आशीर्वाद ! राम कृष्ण खुराना

    Rajkamal Sharma के द्वारा
    June 2, 2012

    आदरणीय चाचा जी ….. सादर प्रणाम ! आपके द्वारा इस रचना को पसंद करके अपना आशीर्वाद प्रदान किये जाने से मैं हर्षित हूँ ….. मुझको आज भी आपकी वोह वाली बात याद है की आप बिना कार के व्यंग्यकार है …. लेकिन मुझको ऐसा महसूस होता है की इस लाइन की पूरी हकीकत से हम वाकिफ नहीं हो सकते है ….. उसके लिए हमको इसका एक अंग बनना ही पड़ेगा लेकिन तब हम इसके बारे में अपनी जुबान कदापि नहीं खोल पायेंगे …… इसलिए हमारे लिए यही बेहतर होगा की हम बाहर से ही आधी अधूरी सच्चाई से अपना काम चलाते रहे … आपका हार्दिक आभार

dineshaastik के द्वारा
May 31, 2012

आदरणीय  राजकमल जी फिल्मी दुनियाँ सच्चाई की सहजता से उद्धत  किया है अपने।  आपके आलेख  में सजीवता दृष्टिगत होती। ऐसा लगता है जैसे सचमुच  ऐसा हुआ   हो। हाँ े एक  बात इसमें नहीं  है, जब यह बातचीत  हो रही थी तो क्या सचमुत सन्नी जी अपने अंगों को ढ़के हुए थी। चित्र में तो ढ़के हुये दिख  रहें हैं, लेकिन आपके अनुसार यह  चित्र और कहीं से लिया गया है। संभवतः उस  समय  कैमरे आदि  का प्रबंध  नहीं था। लेकिन आपने लाइव टेलेकास्ट  लिखा  है। लेकिन शायद  वह  चित्र मंच  पर प्रदर्शित  करने योग्य नहीं होगे। इसलिये आपने उन्हें यहाँ नहीं रखा होगा।

    Rajkamal Sharma के द्वारा
    June 2, 2012

    आदरणीय दिनेश जी ….. सादर अभिवादन ! इस लेख के बिलकुल नीचे इसी जागरण जंक्शन पर प्रकाशित उस लेख के लिंक को दिया गया है जिसको की क्लिक करना भूल गए है – हा हा हा हा हा हा …… हमारे भारत में बिग बॉस में इस तरह की बाते नहीं होती क्योंकि हम संस्कारी लोग है अभी तक फिलहाल ….. लेकिन ब्राजील में प्रसारित एक और बिगबास नाम के ही प्रोग्राम में लिव रेप कर दिया गया था / दिखा दिया गया था …… हम चाहे कितने ही एडवांस क्यों ना हो जाए लेकिन हमारे प्यार भारतवर्ष में टी.वी. पर ऐसा वैसा कुछ भी नहीं हो सकता है ….. आपका बहुत -२ आभार

anoop pandey के द्वारा
May 31, 2012

जय श्री राधे राजकमल जी, लेख का शीर्षक देख कर हमारी गन्दी बुद्धि को अतीव आनंद हुआ की ‘कास्टिंग काउच’ जैसा कुछ चटपटा भोजन मिलेगा परन्तु आपने फलाहार कराकर चलता कर दिया…….कमसकम इतना ही कह दिया होता की ;’पिक्चर अभी बाकी है मेरे दोस्त’

    Rajkamal Sharma के द्वारा
    June 2, 2012

    प्रिय अनूप पाण्डे जी (जी –आफिस -२ वाला ) …… सप्रेम नमस्कारम ! आपके आदेश पर अपनी पुराणी पोस्ट जोकि इन्ही मोहतरमा पर लिखी थी अब आपकी पहुँच में आ गई है ….. आप उसको पढ़ कर अपनी अतृप्त आत्मा की प्यास बुझा सकते है ….. लेकिन अगर फिर भी आप प्यासे रह जाते है तो फिर वोह मेरे बस से बाहर की बात है ….. तब उन हालात में तो आपको वास्तव में ही जिस्म टू का इंतज़ार करना ही पड़ेगा जोकि अगस्त माह में रिलीज होगी …… सन्नी के दीवाने की मिलकर मन गदगद हो गया आपका तहे दिल से शुक्रिया

surendr shukl bhramar5 के द्वारा
May 30, 2012

मुझको महेश जी माफ करना गलती म्हारे से हो गई आइन्दा से फिर कभी ऐसा नहीं होगा ..वोह फोन मैंने दरअसल अपनी बेटी पूजा को लगाया था ….. अपने इसी ट्रिक से मैंने बहुत सी हिरोइनों को पटाया + छकाया है वैसे भी हमारे भारत में यह कहावत मशहूर है की “एक वैश्या की भी इज्जत होती है”…..बेबी ! यह तुम क्या ज़ुल्म करने जा रही हो ….. यह युरोप नहीं है बल्कि हमारा भारत है …… यहाँ पर तुम्हे आखिरकार अपने जिस्म पर कोई न कोई कपड़ा तो पहनना ही पड़ेगा .. अरे भाई अच्छा हुआ आप ने लिया ही आनंद काटा नहीं चुटकी ..ये शमा यूं ही बंधा रहे ..ये बालीवुड हालीवुड से यों ही आगे बढ़ने की तमन्ना रखे ये गुल खिलाता रहे लोग सोचते रहें और आप तीनों ही नहीं हम सब चुटकियाँ ले रसीली जलेबियों का यों ही लुत्फ़ उठाते रहें .. सुन्दर गुरुदेव ..जमाना बड़ा फास्ट है भ्रमर ५

    Rajkamal Sharma के द्वारा
    June 2, 2012

    आदरणीय भ्रमर जी …… सादर प्रणाम ! आपने अपनी पसंद कही है लेकिन मेरा सबसे पसंदीदा डायलाग है “मैं कपड़ो के नीचे बिकिनी नहीं पहनूंगी” आपने उचित फरमाया है की जमाना बहुत ही फास्ट है ….. लेकिन जमाना सारा नहीं इस अंधी दौड़ में लगे हुए कुछ खास खास ही है ….. अपना कीमती समय और अनमोल विचार देने के लिए आपका हार्दिक आभार जय श्री राधेश्याम !

आर.एन. शाही के द्वारा
May 30, 2012

मान गए भाई साहब. कमाल का नालेज रखते हैं फिल्म इंडस्ट्री का. दादा साहब फाल्के से लेकर लियोन तक आपके दिमाग में नियोन साइन की तरह चमकते दिखाई देते हैं. हमें तो अपनी पकड़ पर अब हीनता का सा बोध होने लगा है. भई वाह, ऐसा ही व्यक्तित्व बिग बॉस का रोल अदा कर सकता है. हमारे जैसे फिसड्डी यहाँ पानी नहीं भरेंगे, तो फिर करेंगे क्या ? वह ज़माने फाख्ता हुए जब आर.के. स्टूडियो के बाहर चप्पल चटकाने वाले छोकरों में से कोई सुपर स्टार भी बन जाया करता था. बॉस, प्लीज़ एक बार मुझे भी दर्शन का मौक़ा अवश्य देना अपनी लियोन का. कहो तो शूटिंग के समय चाय वाला छोकरा बनकर भी अन्दर घुसने को तैयार हूँ. लेकिन नहीं, छोकरा कहाँ से बन पाऊँगा ? कोई भी माई का लाल मेक-अप अब अपन की असलियत नहीं छुपा पाएगा. तो फिर ऐसा करो ना बॉस, अपनी रीयलिटी वाली शूटिंग या लाइव वाले में ही अपना चांस फिट कर दो न . छोकरा न सही, भगवा पहन कर स्वामी अग्निवेश बन जाने की तो गारंटी तक दे सकता है अपुन. हाँ, एइच ठीक रहेंगा. स्वामी अन्दर, भगवा बाहर. भगवे के ऊपर आगे पीछे ही बिकिनी भी गिरने का….क्या ! क्या मस्त-मस्त आइडिया आ रहेला है गुरु . सच्ची, अब तो अपनी भी लिफ्ट कराइच दे ना बाप ! पण एक बात बताना मांगता बॉस. तेरा ये जो ब्लॉग है ना ? कहीं इधर कू हिट-लिस्ट में तो नहीं आने का ? तुमेरे कू मालूम तो होएंगा इच कि अपना जो महेश दादू है ना, इदर भाई लोगुन का गेस्ट राइटर होता. पेज के ऊपर इनकी तिजोरी से फोटू चुराकर लगा लिया, ये तो डबल पंगा होता न बॉस. कुछ गड़बड़ होएंगा, तो बताने का. तबतक अपुन भागता है…. खातून की खिदमत में, सलाम अपुन का. ताने दीने तन्दाना … तन्दाना तन्दाना …

    surendr shukl bhramar5 के द्वारा
    May 30, 2012

    लेकिन नहीं, छोकरा कहाँ से बन पाऊँगा ? कोई भी माई का लाल मेक-अप अब अपन की असलियत नहीं छुपा पाएगा. अरे शाही जी ऐसी बात नहीं है ..तवेले से सर पे बाल…खंडहर से मुंह पर चाँद चमकाना इनको बखूबी आता है आप तो यो ही दबंग हैं ..बस खातून की खिदमत में खत लिख कबूतर से भिजवा देना है ..जा कबूतर जा ….जय श्री राधे भ्रमर ५

    jlsingh के द्वारा
    May 31, 2012

    जय राम जी की, भ्रमर जी को घुसता देख मेरी भी हिम्मत लौट आयी है… हिम्मत कहें तो…. अरे यार वही ‘पुरानी जवानी’ … अब तो ‘याद’ ही बाकी हैं …. गुरुदेव और गुरुश्रेष्ठ, अपने शिष्यों को थैला (झोली) उठाने के लिए ही सही साथ में रख लीजिये कमंडल का भार आप कहाँ तक सम्हालेंगे! …….. परनाम !!!

    आर.एन. शाही के द्वारा
    May 31, 2012

    अच्छा हुआ कि कमंडल की चर्चा कर आपने मेरी खल्वांट खोपड़ी झिंझोड़ दी जवाहर जी. भाई ये तो बताएं, कि अपने कमंडल वाले बाबा ब्रह्मा जी अंतर्ध्यान होने के बाद से लापता कहाँ हो गए ? उनके बिना यहाँ कविनगर बिलकुल सूना-सूना सा लग रहा है. मैंने तो दैवी शक्तियों के लिए मात्र विश्राम का समय होने की सूचना दी थी, कहीं उन्होंने उसका अर्थ समाधिस्थ होने से तो नहीं लगा लिया ! उनको ढूँढिये भई, वरना सृष्टि में सर्वत्र अन्धकार छा जाएगा. आप कहाँ हैं कविवर शशिभूषण जी….. कहाँ हैं ??…… कहाँ हैं ???

    Rajkamal Sharma के द्वारा
    June 2, 2012

    मेरे सभी प्यारे -२ अबोध बालको के आदरणीय दादा फुरुदेव जी के श्री चरणों में प्रणाम ! आपकी आशंका बिलकुल जायज है …. अगर ऐसी बात है तो मैं महेश भात जी के लेख पर अपने इस लेख का लिंक जरूर देना चाहूँगा क्योंकि अपुन भी बहुत ही कुत्ती और मस्त मस्त आइटम है ….. फिर जो होगा देखा जाएगा ….. वैसे मैंने उनकी फोटो वाला ब्लॉग एक बार देखा था लेकिन मन के अन्दर डेरा जमाए बैठे दरोगा जोकि हमेशा हर किसी पर नाहक ही शक करता रहता है के कारण उसको नजरंदाज करके गुजर गया की ह्प्गा कोई टपोरी + बेवड़ा , अपुन को क्या लेना देना ….. प्यारी पूजा के पापा के पास कहाँ इतना वक्त की वोह यहाँ पर ब्लॉग लिखे …… वैसे कहीं उनके डर से ही तो जागरण ने इसको फीचर्ड करने से अपने हाथ और पाँव पीछे खीच लिए ?….. हार्दिक आभार इस अनमोल जानकारी प्रदान कराने + याद दिलाने के लिए (वैसे अपने मेकअपमैन आंटी नम्बर वन बनाने में माहिर है –बोल्ड एंड ब्यूटीफुल )

    surendr shukl bhramar5 के द्वारा
    June 3, 2012

    शाही जी पूरा तो अंधकार नहीं छाएगा अभी जवाहर जी जो मणि से चमक रहे हैं ..सम्हाले रहेंगे ..दारोगा जी यफ आई आर लिखे होंगे और चाँद जल्द फिर चमक ही जाएगा घमासान बादल उथल पुथल देख थोडा विश्राम लगता है …जय श्री राधेश्यम गुरुजन … भ्रमर ५

    rajkamal के द्वारा
    June 9, 2012

    आदरणीय भ्रमर जी ….. सादर प्रणाम ! आपके लिए और हम सभी के लिए ही यह खुशखबरी है की प्रिय शशिभूषण जी इस मंच पर दुबारा से पधार चुके है ….. हार्दिक आभार

Santosh Kumar के द्वारा
May 30, 2012

आदरणीय गुरुदेव ,.सादर प्रणाम सच्चा वार्तालाप लेकिन मुझे लगता है कि सच में इतनी शराफत नहीं दिखाते होंगे ,.खैर एक बात बड़ी अच्छी लगी “…कबीर जी की पत्नी ने उनको पागल तक साबित कर दिया था ..”…..लेकिन वो तो पश्चिम की नहीं थी ,.. मनोरंजक लेख के लए बहुत आभार

    Santosh Kumar के द्वारा
    May 31, 2012

    गुरदेव ,.वैसे सन्नी लिओन का जलवा वाकई जबरदस्त है ,..पता नही कितनी पोस्टें आकर चली गयी लेकिन टिकट खिड़की पर मोहतरमा अभी पहले पेज पर बनी हैं ,..काश मैं भी लिखता ..”लुटेरा सरदार विद सन्नी लियोन “…जस्ट जोकिंग !!..क्षमा प्रार्थना सहित ..

    Rajkamal Sharma के द्वारा
    June 2, 2012

    प्रिय संतोष जी ….. सप्रेम नमस्कारम ! यह कथा मैंने एक कैसेट में सुनी थी जबकि कबीर जी ने अपनी प्राणप्रिया से कहा की सुना है की औरतो के (अब याद नहीं कितने ) इतने प्रकार के त्रिया चरित्र होते है लेकिन तुमने हमको आज तक अपना कोई त्रिया चरित्र नहीं दिखाया …… उसके बाद ही उस महान आत्मा ने कबीर जी से मिलने आये एक जिज्ञासु से झूठ बोल कर कुछ ऐसी माया रच डाली की कबीर जी नारी शक्ति (त्रिया चरित्र) का लोहा मान गए …. लेख को प[असंद करने के लिए आभार

    Rajkamal Sharma के द्वारा
    June 2, 2012

    प्रिय संतोष जी ….. सप्रेम नमस्कारम ! इस रचना पर मैं पिछले कई महीनो से सोच तो रहा था लेकिन इस ड्रीम प्रोजेक्ट को पूरा अभी पिछले दिनों ही कर सका ….. लेकिन शाम को जब मैं वापिस आया तो यह देख कर गहरे सदमे और हैरत में पड़ गया की मेरी यह पोस्ट सीधे छठे पेज पर पहुँच चुकी थी किसी नीम पागल के पागलपन में अनेको पोस्ट्स को पोस्ट करने के कारण ….. आपने बिलकुल सही कहा है लेकिन मैं तो इंतज़ार जर रहा था की मेरी पुरानी पोस्ट चर्चित की सूचि में से बाहर निकले तो अपनी पुरानी सन्नी लियोन पर लिखी हुई रचना को आप सभी को पढ़ने का मौका प्रदान करूँ ……. धन्यवाद सहित

Rajesh Dubey के द्वारा
May 30, 2012

फिल्मी दुनियां के सचाई को आपने सहजता से शब्दों में ढाल दिया. सत्य और सही बातों के लिए धन्यवाद.

PRADEEP KUSHWAHA के द्वारा
May 30, 2012

आदरणीय राज कमल जी, सादर अभिवादन इसी बहाने फिल्म जगत की हकीकत पता चली. धन्यवाद.

Ajay Kumar Dubey के द्वारा
May 30, 2012

आदरणीय गुरुदेव सादर प्रणाम एक-आध छोटा-मोटा रोल हमका भी दिलाय देते. कुछ बेरोजगारी की समस्या हल हो जाती. कुछ माल-पानी जेब में आ जाता .यहाँ छोटे से शहर में बैठा-बैठा सड़ रह हूँ. नाहीं हीरो तो स्पॉट बॉय ही सही. बहुते परेशान हूँ. कुछ जुगाड-बुगाड लगाईये न….. बहुते मेहरवानी होगी. बीबी-बच्चे आशीर्वाद देंगे.

    Rajkamal Sharma के द्वारा
    June 2, 2012

    प्रिय अजय जी …… सप्रेम नमस्कारम ! बच्चों की बात तो मैं नहीं जानता हूँ लेकिन इतना जरूर पता है की नारिया बहुत ही शक्की स्वभाव की होती है …… देखिये फिल्म में काम पाने के चक्कर में आपकी रही सही आज़ादी भी खतरे में ना पड़ जाए कहीं ….. पता लगे की घर बार का काम छोड़कर आपकी श्रीमती जी आप पर नज़र रखने के लिए सारा दिन साईट /सेट पर ही बेलन लेकर मोजूद रहती है ……. शहर बड़ा हो फिर चाहे छोटा आदमी अपने घर परिवार में शाम को शुख शांति से कुछ पल बिता सके यही सबसे बड़ी उपलब्धि है आजकल के तनाव भरे माहौल में …… सुखमय और शांति(प्रिय) जीवन के लिए शुभकामनाये

चन्दन राय के द्वारा
May 30, 2012

राजकमल जी , जब आप बिग्बोस है तो भाई हमारा करियर भी लगे हाथ धन्नो घोड़ी पे बिठा किस्मत के हसीं चक्कर लगवा दिजिय , कहने का मतलब है कोई गीत गात लिखवा ले , भाई आखिर हम कविता तो लिख ही लेते है , आपका कमीशन पक्का , पहले ही थे आप दरोगा , अब होके फ़िल्मी यार अब डर कहे का

    Rajkamal Sharma के द्वारा
    June 2, 2012

    प्रिय खुशबूदार चन्दन जी …… सप्रेम नमस्कारम ! आजकल ज्यादातर कमीशन पर ही काम हो रहे है सौदे पक्के हो रहे है ….. ऐसा लगता है की इस देश में नागरिक कम और दलाल ज्यादा हो गए है ….. आपमें अगर काबलियत है तो भी उसको अवसर प्रदान करने के लिए कुछ अलग हटके करना होता है ….. हर किसी में इतनी सहनशीलता और हिम्मत नहीं होती और सबसे बढ़कर भाग्य ….. वैसे मेरी नजर में तो एक ही रास्ता है की अपने खुद के गीतों को शुरुआत में किसी दूसरे नामवर गीतकार के नाम से ओने पौने दामो में बेच दिया जाए ….. लेकिन यह भी तब हो सकता है जब अपनी अंतरात्मा को मार दिया जाए ….. कुछ भी हो आपके गीत सुन कर हम झूम तो सकेंगे ही ….. इतना ही काफी होगा हम सभी के लिए ….. अग्रिम शुभकामनाये


topic of the week



latest from jagran